Koo App क्या है? कैसे डाउनलोड करें और इस्तेमाल करें - पूरी जानकारी हिंदी में

Share:

Koo App Wikipedia Hindi :- नमस्कार दोस्तों आज विकिपीडिया हिंदी में हम बात करने वाले हैं Koo App के बारे में। Koo App क्या है? Koo App किसने बनाया है? कैसे डाउनलोड करें और इसका इस्तेमाल कैसे कर सकते हैं? इसके अलावा आज हम इस पोस्ट में आपके हर सवाल का जवाब देंगे, जो आपके दिमाग मेंच ल रहे हैं।

What is Koo App in Hindi - सबसे पहले आपको यह बताना जरूरी है कि Koo App क्या है? जिसको जानने के लिए आप Google पर सर्च कर रहे हैं। कू ऐप एक भारतीय ट्विटर है। भारत में ट्विटर को लेकर चल रहे विवादों के बीच भारतीय ऐप Koo App इन दिनों चर्चाओं में है।

Koo App Wikipedia Hindi

Koo App को भारत में ट्विटर के विकल्प के तौर पर लॉन्च कर दिया गया है। जिसके बाद लोगों को कू ऐप बेहद पसंद आ रहा है। बड़े-बड़े नामी चेहरों द्वारा भी Koo App पर अपने अकाउंट बनाए जा रहे हैं। जिसके बाद से सुर्खियों के आए कू ऐप के बारे में जानने के लिए हर किसी में उत्सुकता है।

कू ऐप (Koo App) की लोकप्रियता का अनुमान इस बात से लगाया जा सकते हैं कि केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल (Piyush Goyal) ने भी “कू” पर अपना अकाउंट बना लिया है और वह भी अब इस प्लेटफार्म का इस्तेमाल कर रहे हैं। पीयूष गोयल के अलावा कई मंत्रियों ने भी कु एप्लीकेशन का इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। इसलिए देखते ही देखते कू ऐप एक पापुलर और ट्विटर को टक्कर देने वाली ऐप्लीकेशन बन गई है।

Koo App क्या है?


कू ऐप एक ट्विटर को टक्कर देने वाली भारतीय एप्लीकेशन है। इस इंडियन माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट को अप्रमेय राधाकृष्ण और मयंक बिदावतका ने पिछले साल मार्च में डेवलप किया था। ट्विटर की ही तरह कू भी एक माइक्रो-ब्लॉगिंग प्लेटफॉर्म है, जहां आप अलग-अलग मुद्दों पर अपने व्यूज और ओपिनियन दे सकते हैं।

ट्विटर की तरह ही काम करने वाले Koo App को इस्तेमाल करना भी बहुत आसान है। कू ऐप पर आप अपने विचार रख सकते हैं। आने वाले दिनों में कू ऐप पर बड़े-बड़े सेलीब्रिटी सहित नेताओं के अकाउंट बन जाएगें और उसके बाद यह बिल्कुल ट्विटर की तरह की काम करेंगा।

Koo App के फाउंडर कौन है?


बैंगलोर के उद्यमियों द्वारा बनाए गए एक माइक्रो-ब्लॉगिंग ऐप कू के फाउंडर अप्रमेय राधाकृष्ण (जिसने पहले Taxiforsure के सह-स्थापना की थी) और मयंक बिदावतका हैं। उन्होंने अगस्त 2020 में भारत सरकार द्वारा आयोजित AatmaNirbhar ऐप इनोवेशन चैलेंज को भी जीता था।

बता दें कि कू ऐप (Koo App) ने आत्मनिर्भर भारत एप्लिकेशन चैलेंज (Aatmanirbhar App Challenge) में भी भाग लिया था, यही नहीं इसके अलावा भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी मन की बात कार्यक्रम में “Koo” ऐप पर चर्चा कर चुके हैं। इसके बाद से ही कू ऐप सुर्खियों में आया है।

कू ऐप के फीचर्स क्या है?


जैसे कि आपको पहले ही बताया जा चुका है कि कू ऐप ट्विटर को टक्कर देने के लिए तैयार किया गया है। इसलिए यहां पर आपको ट्विटर जैसे फीचर्स को देखने को मिलेंगे ही। साथ में आपको ऐसे नए फीचर्स भी मिलेंगे, जिसके कारण Koo App आपके पसंदीदा बन जाएगा।

अगर आपने भी अभी तक Koo App को नहीं देखा है तो एक बार इसे इस्तेमाल करने से पहले यहां पर कू ऐप के फीचर्स के बारे में जान लीजिए। तो आइए जानते हैं कू ऐप के फीचर्स के बारे में...

● Koo App में आप इंडिया न्यूज पर अपनी राय सांझा कर सकते हैं।
● भारतीय समाचार पत्र और चैनल द्वारा पोस्ट की गई ट्रेंडिंग भारतीय समाचार यहां से देख सकते हैं।
● आप विभिन्न भारतीय भाषाओं में कुछ भी चर्चा कर सकते हैं।
● भारतीय समाचार रिपोर्टर्स, पत्रकारों, राजनेताओं, क्रिकेटरों, अभिनेताओं, कार्यकर्ताओं और अन्य दिलचस्प लोगों का अनुसरण कर सकते हैं।
● Youtube के न्यूज़ चैनल की ट्रेडिंग खबर की खोज यहां की गई है।
● कू ऐप ट्विटर के विकल्प की तरह है।
● इसमें आप ट्रेंडिंग # हैशटैग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
● आप अपने Follwers के साथ पाठ / वीडियो / ऑडियो या तीनों में से किसी के संयोजन को सांझा कर सकते हैं।

Koo App किन भाषाओं में कर सकते हैं इस्तेमाल?


Koo App की सबसे खास बात यह है कि आप इसे कई भारतीय भाषाओं में इस्तेमाल कर सकते हैं। इसलिए कू ऐप को इस्तेमाल करने में आसानी होगी। Koo App में आपको तेलुगु, कन्नड़, बंगाली, तमिल, मलयालम, गुजराती, मराठी, पंजाबी, ओड़िया और आसामी का सपोर्ट मौजूद है।

यानि अगर आप किसी भी भाषा को जानते हैं तो आसानी के साथ अपनी भाषा में कू ऐप को इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा नहीं कि अगर आपको इंग्लिश नहीं आती है तो आप इसे हिंदी, पंजाबी या फिर किसी ओर भाषा में भी प्रयोग कर सकते हैं। जो बेहद खास फीचर्स है।

Koo App का कैसे इस्तेमाल करें?


Koo App को चलाना बहुत ही आसान है। इसे इस्तेमाल करने के लिए आपको ज्यादा परेशान नहीं होना पड़ेगा। अगर आपने कभी ट्विटर या फिर कोई भारतीय ऐप जैसे कि Moj App, Chingari App, Sharechat App आदि का इस्तेमाल किया है तो यह भी बिल्कुल उसी प्रकार से काम करता है।

Koo ऐप में यूजर्स को लॉगइन करना होगा और उसके बाद आप इसके सदस्य बन जाएगें। आप कू ऐप पर पोस्ट, वीडियो और फोटेज शेयर कर सकते हैं। ट्विटर की ही तरह Koo ऐप पर भी यूजर्स एक दूसरे से DMs के जरिए चैट कर सकते हैं। साथ ही इस माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट पर यूजर्स पोल्स भी कंडक्ट कर सकते हैं। इसलिए कू ऐप को ज्यादा पसंद किया जा रहा है।

Koo App को डाउनलोड कैसे करें?


Koo App को डाउनलोड करना भी आसान है। कू ऐप गूगल प्ले स्टोर और ऐपल ऐप स्टोर पर डाउनलोड के लिए उपलब्ध है। यानी यूजर्स इसे iPhone और एंड्रॉयड फोन्स दोनों में ही डाउनलोड कर सकते हैं। गूगल प्ले स्टोर पर इसके 1 मिलियन से भी ज्यादा डाउनलोड हो चुके हैं।

इसलिए अगर आप भी Koo App को डाउनलोड करना चाहते हैं तो सीधे Google Play Store या फिर Apple App Store पर जाकर आसानी के साथ डाउनलोड कर सकते हैं और अपने मोबाइल फोन में इंस्ट्रॉल कर इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

क्या सीखे:-


दोस्तों इस पोस्ट में आपने जाना है कि Koo App Kya Hai?, Koo App Kaise इस्तेमाल करें? कू ऐप कैसे डाउनलोड करें? और कू ऐप को किसने बनाया है। यह सारी जानकारी आपको विकिपीडिया हिंदी ब्लॉग पर दी गई है। उम्मीद करते हैं कि आपको यह जानकारी पसंद आएगी।

अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आए तो कृप्या पोस्ट को शेयर जरूर करें और कॉमेंट में अपना सवाल जरूर लिखें।

1 comment: