Ad Code

Ticker

6/recent/ticker-posts

Solar Eclipse 2020 :- 21 जून को लगने वाला सूर्यग्रहण क्यों हैं खास, जानिए आपकी राशि पर कैसा रहेगा असर - विकिपीडिया हिंदी






21 जून को इस साल 2020 का पहला सूर्यग्रहण (Solar Eclipse) लग रहा है, जो कई मायनों में खास है। क्योंकि ये साल का पहला और आखिरी सूर्यग्रहण होगा, जो भारत में दिखेगा। रविवार सुबह 10.14 बजे से सूर्यग्रहण शुरू होगा। इसका सूतक शनिवार रात 10.14 बजे से शुरू होगा। सूतक के समय पूजा-पाठ नहीं किए जाते हैं। इस समय में सिर्फ मंत्र जाप कर सकते हैं।


सूर्य ग्रहण सुबह 10.14 बजे से दोपहर 1.38 बजे तक रहेगा। ग्रहण का सूतक 12 घंटे पहले शुरू हो जाता है और ग्रहण खत्म होने तक रहता है। ग्रहण खत्म होने के बाद पूजा-पाठ किए जा सकेंगे। इस लिए इस दौरान आपको घर पर कोई पूजा पाठ नहीं करना है।


बता दें कि इससे पहले 5 जून को चंद्र ग्रहण हुआ था, 21 जून को सूर्य ग्रहण है और 5 जुलाई को फिर से चंद्र ग्रहण होगा। 5 जून और 5 जुलाई के चंद्र ग्रहण का धार्मिक महत्व नहीं है। क्योंकि ये मांद्य चंद्र ग्रहण हैं। इस ग्रहण में चंद्रमा के आगे सिर्फ धूल सी छा जाती है। लेकिन इस तरह 30 दिन में तीन ग्रहण का दुर्लभ योग अब 119 साल बाद बनेगा।


साल 2139 में 11-12 जुलाई की रात चंद्र ग्रहण, 25-26 जुलाई को सूर्य ग्रहण और इसके बाद 9-10 अगस्त की दरमियानी रात में चंद्र ग्रहण होगा। उस समय भी इन चंद्र ग्रहणों का धार्मिक महत्व नहीं रहेगा। आज हम आपको इस संबंध में पूरी जानकारी देंगे।



1962 में भी हुए थे 3 ग्रहण, तो हुआ था भारत-चीन युद्ध




2020 से पहले शनि के मकर राशि में वक्री रहते हुए ऐसे तीन ग्रहण 1962 में हुए थे। 58 साल पहले 17 जुलाई को चंद्र ग्रहण, 31 जुलाई को सूर्य ग्रहण और 15-16 अगस्त की मध्य रात्रि में चंद्र ग्रहण हुआ था। उस साल में भी चंद्र ग्रहण की धार्मिक मान्यता नहीं थी। 1962 में भारत-चीन के बीच युद्ध हुआ था। कुछ दिनों बाद 1 सितंबर 1962 को ईरान में भारी भूकंप आया था।


2020 में भी ऐसे ही ग्रहण हो रहे हैं। पिछले कई दिनों से देश के अलग-अलग हिस्सों में लगातार भूकंप के झटके आ रहे हैं और आगे भी इसका खतरा बना रहेगा। ये ग्रहण भारत के अलावा एशिया, अफ्रीका और यूरोप के कुछ क्षेत्रों में भी दिखेगा। सभी जगह ग्रहण का समय अलग-अलग रहेगा।


सूर्य ग्रहण से जुड़ी कुछ खास बातें





- सूतक के समय पूजा-पाठ न करें मानसिक रूप से मंत्रों का जाप कर सकते हैं। आप चाहे तो अपने इष्टदेव का ध्यान भी कर सकते हैं।

- ग्रहण के समय गर्भवती महिलाओं को घर से बाहर नहीं निकलना चाहिए। क्योंकि, ऐसे समय में सूर्य से हानिकारक तरंगे निकलती हैं जो कि मां और बच्चे की सेहत के लिए हानिकारक होती हैं।

- खाने की चीजों में तुलसी के पत्ते डाल देना चाहिए, जिससे कि पका हुआ खाना ग्रहण के कारण अशुद्ध होने से बच जाए।

- ग्रहण खत्म होने के बाद घर की सफाई करनी चाहिए।

- घर में स्थापित देवी-देवताओं की प्रतिमाओं को स्नान करना चाहिए। पूजा-पाठ करना चाहिए।


सूर्य ग्रहण का आपकी राशि पर कैसा रहेगा असर




> मेष राशिफल- राशि से तीसरे स्थान पर ग्रहण होगा। सामान्य फल देने वाला रहेगा। मेहनत के अनुसार सफलता मिल जाएगी।

> वृषभ राशिफल- राशि से दूसरे स्थान पर ग्रहण हो रहा है। आपको सतर्क रहना होगा।

> मिथुन राशिफल- इस राशि में ही ग्रहण हो रहा है। धैर्य और संयम बनाए रखना होगा। संभलकर काम करें। वरना हानि हो सकती है।

> कर्क राशिफल- द्वादश राशि में ग्रहण होगा। आपको खुद पर काबू रखना होगा। खर्च की अधिकता रहेगी।

> सिंह राशिफल- एकादश स्थान पर ग्रहण हो रहा है। अभी किसी को उधार देने से बचें। आय में बढ़ोतरी के योग बन सकते हैं।

> कन्या राशिफल- दशम स्थान पर ग्रहण होने से कार्य की अधिकता रहेगी। पिता की मदद से लाभ मिल सकता है।

> तुला राशिफल- नवम भाव में ग्रहण होगा। भाग्य में रुकावट उत्पन्न करेगा। कार्य में देरी हो सकती है।

> वृश्चिक राशिफल- अष्टम स्थान पर ग्रहण होने से सावधान रहने का समय है। वाहन, ऊंचाई और बिजली से सचेत रहना होगा।

> धनु राशिफल- सप्तम भाव में ग्रहण होने वाला है। साथियों से तनाव हो सकता है। सोच-समझकर काम करें, अन्यथा हानि के योग हैं।

> मकर राशिफल- षष्ठम स्थान पर ग्रहण हो रहा है। रोजगार में नुकसान हो सकता है। शत्रुओं की वृद्धि होगी।

> कुंभ राशिफल- आपके लिए पंचम स्थान पर ग्रहण होगा। संतान से सुख और सहयोग मिलेगा। धन लाभ मिल सकता है।

> मीन राशिफल- चतुर्थ स्थान पर ग्रहण होने से चिंता में वृद्धि होगी। कार्य की अधिकता रहेगी। लापरवाही से बचना होगा।


दोस्तों अब आपको पता चल ही गया है कि 21 जून रविवार को लगने वाला सूर्य ग्रहण कितने मायने रखता है और इस दिन किन बातों का ख्याल रखना है। इसके साथ ही हमने आपको आपकी राशिफल में सूर्यग्रहण के असर के बारे में भी अवगत करवा दिया है। जिसके आधार पर आप अपना रखरखाव कर सकते हैं।


अगर आपको हमारे द्वारा दी गई जानकारी पसंद आए तो आगे जरूर शेयर करें। दिनभर खास जानकारी पढ़ने के लिए विकिपीडिया हिंदी...सब कुछ हिंदी में...


यह भी पढ़े - 

Insurance क्या होता है? इंश्योरेंस कितने प्रकार का होता है? पूरी जानकारी हिंदी में

Youtube Se Paise Kaise Kamaye in Hindi | यूट्यूब से पैसे कैसे कमाएं 2021 में

Seo Friendly Blog Post Kaise Likhe - ब्लॉग पोस्ट को गूगल में रैंक कैसे करवाएं हिंदी में

Benefits Of Poppy Seeds : खसखस के 10 फायदे और ठंड में रोज खाएं खसखस

10+ सफलता के सूत्र | Jeevan Mein Safalta Ke Sutra in Hindi

तहसीलदार क्या होता है? Tehsildar कैसे बनें?, योग्यता और सैलरी, पूरी जानकारी हिंदी में

लोन लेने में हो रही है परेशानी, तो अपनाएं 6 बातें और आसानी से लीजिए कर्ज

Koo App क्या है? कैसे डाउनलोड करें और इस्तेमाल करें - पूरी जानकारी हिंदी में

Ladki Ko Propose Kaise Kare | लड़की को प्रपोज कैसे करें?

Mobile Se Paise Kaise Kamaye? ऑनलाइन पैसे कैसे कमाएं 2021
Reactions

Post a comment

0 Comments

Ad Code